Rashi Ratna: Blessing for Everyone

रुद्राक्ष माला: हर परेशानी का अचूक उपाय

I found best n effective remedy from AstroBlog. They have very good customer support. Feeling Blessed.
Laxman P
Mechanical Engineer
Best place for all astrological need, They provide after sale service even after 1 year of purchase.Amazing!
Hemraj Banjade
Manager
I suggest my clients to buy suggested remedies from Astroblog as they have pure natural and energized products in genuine price.
Mohini Bharadwaz
Astrologer

Blog

राशिचक्र की पांचवी राशि सिंह तत्‍व: अग्‍नी गुण: स्थिर रंग: लाल और नारंगी दिन: रविवार स्‍वामी ग्रह: सूर्य मित्र राशि: मेष धनु और मिथुन सिंह राशि के जातक व्‍यवहार कुशल होते हैं किन्‍तु अपने ऊपर इन्‍हें बहुत अभिमान होता है। इनका यह नेचर इन्‍हें प्रेम संबंधों में थोड़ा कमजोर बना

राशि रत्‍न धारण करने की परंपरा सदियों पुरानी है। राशि अनुसार रत्‍न धारण करने से भाग्‍य को मजबूती मिलती है। यह व्‍यक्ति को मन से मजबूत बनाता है। व्‍यक्ति के जीवन में राशि का बड़ा महत्‍व होता है। यह राशि और राशि स्‍वामी ग्रह ही जीवन की ऊंची नीची स्थिति

परेशानियों के बाद भी अगर आप इस संदेश को नहीं पढ़ रहे हैं तो दुर्भाग्‍य आपका साथ नहीं छोड़ रहा है। बहुत ही प्रभावशाली ज्‍योतिषीय उपायों के बारे में जानिए और प्राप्‍त कीजिए। जीवन सही दिशा में शीघ्र जाएगा।

रोज की पूजा Daily Puja Vidhi के अनुसार करनी चाहिए। भारत देश में बहुत सारे ऐसे लोग हैं जो अपने दिन की शुरूआत भगवान की पूजा से करते हैं लेकिन आपको जानकर हैरानी होगी कि ऐसे बहुत कम लोग ही हैं जो पूजा को पूरी विधि अनुसार करते हों। तो

Remedy @ Rs. 999/- “Astroblog” का एक ऐसा प्रयास है जो सभी लोगों तक ज्‍योतिषीय उपायों को पहुंचाने के लिए शुरू किया गया है। इस सुविधा का इस्‍तेमाल करके आप केवल 999 रू. में राशि के अनुसार रुद्राक्ष या फिर राशि रत्‍न प्राप्‍त कर सकते हैं। इसके अलावा भी कई

छह मुखी रुद्राक्ष माला को साक्षात कार्तिकेय का स्वरूप माना गया है। इसे शत्रुंजय रुद्राक्ष भी कहा जाता है यह ब्रह्म हत्या जैसे पापों से मुक्ति देने वाला तथा संतान देने वाला होता है। इसे धारण करने से खोई हुई शक्तियाँ जागृत होती हैं। स्मरण शक्ति प्रबल होती है तथा

पांच मुखी रुद्राक्ष  माला कालाग्नि रुद्र का स्वरूप माना जाता है। यह पंच ब्रह्म एवं पंच तत्वों  का प्रतीक भी है। इस माला के जप से असाध्‍य चीजें भी प्राप्‍त की जा सकती हैं। जिनमें से कुछ निम्‍न हैं: 1: अकाल मृत्यु से बचने के लिए कुंडली में मारक ग्रह

चार मुखी रुद्राक्ष माला ब्रह्म स्वरुप होता है। इसे धारण करने से नर हत्या जैसा जघन्य पाप समाप्त होता है। चतुर्मुखी रुद्राक्ष माला धर्म, अर्थ काम एवं मोक्ष को प्रदान करता है। शिक्षा में सफलता व प्रतियोगी परीक्षा में बेहतर प्रदर्शन के लिए यह माला विशेष फल देती है। जिसकी

X